Biography Hindi

रेखा का परिचय(Biography)?

Rekha Hindi Biography

अपनी खूबसूरती और शानदार अभिनय से बॉलीवुड में एक अलग पहचान बनाने वाली रेखा जी आज की बॉलीवुड जनरेशन की रोल मॉडल हैं. अपने फिल्मी करियर में तमाम संघर्षों का सामना करते हुए उन्होंने 180 से ज्यादा फिल्में की हैं और फिल्मों में अपनी दमदार भूमिका से दर्शकों के दिलों में अपनी अलग जगह बनाई है.

  • वास्तविक नाम    भानुरेखा गणेशन
  • जन्म तिथि:       10 अक्टूबर 1954, चेन्नई, तमिलनाडु, भारत
  • माता             पुष्पावल्ली (तेलुगु अभिनेत्री)
  • पिता का नाम      जेमिनी गणेशन (तमिल अभिनेता)
  • पति का नाम        स्वर्गीय विनोद मेहरा (अभिनेता) स्वर्गीय मुकेश अग्रवाल
  • पुरस्कार              पद्म श्री, फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री (दो बार),

रेखा का जन्म, परिवार, प्रारंभिक जीवन और शिक्षा

बॉलीवुड अभिनेत्री रेखा जी, जो अपनी सुंदरता के लिए जानी जाती हैं, का जन्म 10 अक्टूबर 1954 को चेन्नई के एक तमिल परिवार में भानुरेखा गणेशन के रूप में हुआ था। उनके पिता जेमिनी गणेशन एक प्रसिद्ध तेलुगु अभिनेता थे, जबकि उनकी माँ पुष्पावल्ली भी एक प्रसिद्ध तेलुगु अभिनेत्री थीं।

वहीं यह कहना गलत नहीं होगा कि रेखा जी के अंदर अभिनय के गुण उनके माता-पिता से विरासत में मिले हैं। तमिलनाडु जन्म के कारण रेखा जी की तेलुगु भाषा पर अच्छी पकड़ है, इसके साथ ही हिंदी और अंग्रेजी भाषा में भी उनकी अच्छी पकड़ है।

प्रसिद्ध फिल्म अभिनेत्री रेखा ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा चेन्नई के प्रसिद्ध चर्च पार्क कॉन्वेंट स्कूल से प्राप्त की। वहीं परिवार की आर्थिक स्थिति के कारण रेखा को अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़नी पड़ी और जीवन यापन करने के लिए अभिनय करना शुरू कर दिया। जीवन के शुरूआती दिनों में रेखा को काफी संघर्षों का सामना करना पड़ा था।

Read More: Salman Khan Biography in Hindi

रेखा विवाह

रेखा का वैवाहिक जीवन काफी विवादास्पद रहा है, जिसमें उनकी शादी और प्रेम संबंध के बारे में बहुत सारी अफवाहें उड़ रही हैं।

हालांकि सिमी ग्रेवाल को दिए एक टीवी इंटरव्यू में रेखा ने अपनी और विनोद मेहरा की शादी की अफवाहों का पूरी तरह से खंडन किया और विनोद मेहरा को अपना शुभचिंतक और अच्छा दोस्त बताया.

बॉलीवुड क्वीन रेखा की शादी साल 1990 में दिल्ली के एक बड़े बिजनेसमैन मुकेश अग्रवाल से हुई थी। लेकिन इनकी शादी ज्यादा दिन नहीं चल पाई। शादी के कुछ दिनों बाद उसके पति ने आत्महत्या कर ली।

पति की मौत के बाद रेखा को काफी संघर्षों और आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था। दरअसल, लोग उन्हें अपने पति का अपराधी मानने लगे और उनकी मौत का आरोप लगाने लगे.

बॉलीवुड अभिनेत्री रेखा का फिल्मी डेब्यू

फिल्म जगत की महान अभिनेत्री रेखा जी ने बॉलीवुड की दुनिया में अपने करियर की शुरुआत इसी क्षेत्र में करियर बनाने के लिए नहीं बल्कि मजबूरी में की थी।

वहीं रेखा के माता-पिता दोनों ही तमिल फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े हुए थे। इसलिए उन्होंने पहली बार बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट एक तेलुगु फिल्म ‘रंगुला रतलाम’ से डेब्यू किया।

इसके बाद उन्होंने 1969 की कन्नड़ फिल्म “ऑपरेशन जैकपॉट नल्ली सीआईडी ​​999” से बतौर अभिनेत्री डेब्यू किया। उसी वर्ष, उन्होंने हिंदी फिल्म अंजना सफर से अपनी शुरुआत की। हालांकि, विवाद के कारण उनकी फिल्म रिलीज नहीं हो सकी, बाद में फिल्म के कुछ दृश्यों को हटाकर “दो शिकारी” के रूप में दिखाया गया।

Read More: Arijit Singh Biography in Hindi

1970 में रेखा का फिल्मी सफर:

रेखा ने साल 1970 में बॉलीवुड फिल्म “सावन भादो” में शानदार अभिनय किया। और उनकी फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट रही और फिर रेखा ने अपने फिल्मी करियर में कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। इस फिल्म के बाद 70 के दशक का हर निर्देशक उन्हें अपनी फिल्म में हीरोइन बनाना चाहता था।

वहीं इसके बाद उन्होंने “कहानी किस्मत की”, “रामपुर का लक्ष्मण”, “प्राण जाए पर वचन ना जाए” जैसी फिल्मों में काम किया। उनकी इन फिल्मों ने खूब कमाई की और इस दौरान रेखा के अभिनय को भी काफी सराहा गया.

‘खून पसीना’, ‘मुकद्दर का सिकंदर’, ‘राम बलराम’ जैसी फिल्मों में दोनों की केमिस्ट्री ने दर्शकों को खूब पसंद किया और उनकी इन फिल्मों ने बॉक्स ऑफिस पर भी खूब धमाल मचाया. हालांकि, इस दौरान अभिनेत्री रेखा और अमिताभ बच्चन के प्रेम प्रसंग की अफवाहों का बाजार भी गर्म था, लेकिन इन अफवाहों को नजरअंदाज करते हुए अमिताभ बच्चन ने साल 1973 में अभिनेत्री जया भादुड़ी से शादी कर ली।

शादी के बाद बॉलीवुड एक्ट्रेस रेखा और अमिताभ की पहली फिल्म ‘दो अजनबी’ आई थी, जिसमें रेखा ने अमिताभ बच्चन की लालची पत्नी का किरदार बेहद शानदार तरीके से निभाया था. इस फिल्म में रेखा को उनके अभिनय के लिए काफी प्रशंसा मिली थी। इसके बाद उन्होंने फिल्म “घर” में काम किया।

यह फिल्म उनके करियर का टर्निंग पॉइंट साबित हुई और न सिर्फ उनकी इस फिल्म को खूब सराहा गया बल्कि उनका नाम पहली बार बेस्ट एक्ट्रेस के फिल्मफेयर अवॉर्ड्स में नॉमिनेट भी हुआ। वहीं रेखा के चाहने वालों की संख्या बढ़ती गई और वह बॉलीवुड की सबसे शानदार अभिनेत्री बनकर उभरीं।

1980 में रेखा का फिल्मी सफर:

1980 के दशक में रेखा जी को बॉलीवुड की बेहतरीन अभिनेत्रियों में से एक के रूप में पहचाना जाने लगा। 80 के दशक की शुरुआत में रेखा ने कॉमेडी फिल्म ‘खूबसूरत’ की। इस फिल्म में उनके किरदार ने खूब सुर्खियां बटोरी थी. साथ ही इस फिल्म के बाद रेखा को पहली बार बेस्ट एक्ट्रेस के अवॉर्ड से नवाजा गया.

वहीं इस फिल्म के अलावा 1980 के दशक में उन्होंने अमिताभ बच्चन के साथ भी कई फिल्में कीं, जिन्हें बॉक्स ऑफिस पर खूब सफलता मिली. अस्सी के दशक में उनकी बहुरानी, ​​​​खून भरी मांग, एक ही भूल, उमराव जान, मांग भरो साजन और सिलसिला जैसी फिल्में सुपरहिट रहीं।

वहीं, इसी दशक में उन्होंने अमिताभ बच्चन, जया भादुड़ी के साथ फिल्म सिलसिला में भी काम किया। उनकी यह फिल्म लव ट्राएंगल पर आधारित होने के साथ-साथ उनकी और अमिता पर भी आधारित थी.

 आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसे लेगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं ,यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते हैं.

Read More: Sardar Vallabhbhai Patel Biography in Hindi

Add comment

Follow us

Don't be shy, get in touch. We love meeting interesting people and making new friends.